Home / Latest Alerts / Netmeds के बाद अब किन-किन कंपनियों पर है Reliance की नजर

Netmeds के बाद अब किन-किन कंपनियों पर है Reliance की नजर

Last Updated On : 19 Aug 2020

नई दिल्ली। मुकेश अंबानी ( Mukesh Ambani ) कई ई-कॉमर्स कंपनियों का अधिग्रहण करके रिटेल सेक्टर ( Retail Sector ) में अपनी पहुंच को और मजबूत करना चाह रहे हैं। इसे भारत के हॉट ई-कॉमर्स रिटेल सेक्टर के लिए अमेजन के साथ चल रही लड़ाई के अग्रदूत के रूप में देखा जा रहा है। आज ही आरआईएल ( RIL ) की ओर से नेटमेड्स ( Netmeds ) का अधिग्रहण कर दिया है। रिलायंस की यह डील करीब 620 करोड़ रुपए की है। अब सवाल ये है कि क्या रिलायंस की शॉपिंग की खत्म हो गई है। जवाब है नहीं। कंपनी की कुछ और रिटेल कंपनियों पर नजर है, जिसकी खरीदारी के लिए रिलायंस के उच्चाधिकारी बातचीत के दौर में लगे हुए हैं। आइए आपकों भी बताते हैं कि आखिर आरआईएल किन कंपनियों की ओर देख रही है।

यह भी पढ़ेंः- Reliance Retail ने खरीदी ई-फार्मा कंपनी Netmeds, जानिए कितने में हुई है डील

जिवामे के लिए 16 करोड़ की डील
वहीं दूसरी ओर अपने रिटेल कारोबार में फैशन और लांजरी प्रोडक्ट्स को भी एड करना कंपनी के प्लान में शामिल है। इसके लिए कंपनी की ओर से जिवामे से बात चल रही है। मीडिया रिपोर्ट की मानें तो रिलायंस लांजरी ब्रांड जिवामे के लिए 16 करोड़ डॉलर का भुगतान कर सकती है। रिटेल कारोबार के लिए यह डील काफी अहम माना जा रहा है।

यह भी पढ़ेंः- इन चार Government Bank के Privatization का Process हुआ तेज, कहीं आपका तो नहीं इन बैंकों में खाता

अर्बन लैडर से चल रही है बातचीत
मुकेश अंबानी की कंपनी फर्नीचर रिटेल ब्रांड अर्बन लैडर से बात चल रही है। जानकारी अनुसार अर्बन लैडर से बात अंतिम दौर में है। जानकारों की मानें तो रिलायंस इस कंपनी के लिए 3 करोड़ डॉलर तक का निवेश कर सकती है। जानकारी के अनुसार रिलायंस के रिटेल बिजनेस के लिए यह डील काफी अहम है।

यह भी पढ़ेंः- CMIE Report : अप्रैल से अब तक 1.89 करोड़ सैलरीड लोगों की गई नौकरी

मिल्कबास्केट का भी हो सकता है अधिग्रहण
वहीं दूसरी ओर मिल्कबास्केट को खरीदना भी रिलायंस के प्लान में शामिल है। वैसे इसकी डील के लिए बातचीत शुरुआत दौर में चल रही है। वहीं इस डील की रकम के बारे में कोई बातचीत नहीं हुई है। इससे पहले अमेजन और बिगबास्केट भी मिल्कबास्केट को खरीदने के लिए बातचीत कर रहे थे, लेकिन बात आगे नहीं बढ़ सकी।

यह भी पढ़ेंः- India China Tension: HDFC के बाद चीनी केंद्रीय बैंक का ICICI में निवेश

फ्यूचर ग्रुप डील
जानकारी के अनुसार आरआईएल किशोर बियानी के फ्यूचर ग्रुप की रिटेल संपत्तियों के पूर्ण या कुछ हिस्सों का अधिग्रहण करने की भी तैयारी में है। रिलायंस की यह डील करीब 23 हजार करोड़ रुपए बताई जा रही है। अगर यह डील हो जाती है तो मुकेश अंबानी रिटेल सेक्टर देश में सबसे बड़े कारोबारी हो जाएंगे। जानकारों की मानें तो कुछेक अड़चने सामने आ रही हैं, जिनके जल्द होने की संभावना है। वैसे आरआईएल की ओर से इस बारे में कुछ भी कहने से इनकार कर दिया है।

Published From : Patrika.com RSS Feed

comments powered by Disqus

Search Latest News

Top News