Home / Latest Alerts / Pakistan के लिए भारी पड़ सकती है चीन से दोस्ती, अमरीका ने IMF से कहा- शर्त के साथ ही दें राहत पैकेज

Pakistan के लिए भारी पड़ सकती है चीन से दोस्ती, अमरीका ने IMF से कहा- शर्त के साथ ही दें राहत पैकेज

Last Updated On : 19 Jun 2019

नई दिल्ली। अमरीका ( America ) ने आर्थिक संकट में फंसे पाकिस्तान ( Pakistan ) को वित्तीय राहत पैकेज ( Bailout Package ) देने का करार करने पर अंतरराष्‍ट्रीय मुद्रा कोष ( International Monetary Fund ) पर 'कड़ी प्रतिक्रिया' जताई है। अमरीका ने कहा है कि पाकिस्तान को वित्तीय मदद 'शर्त लगा कर' दी जानी चाहिए। अमरीका के विदेश विभाग की एक शीर्ष अधिकारी ने यह जानकारी दी। अमरीकी सरकार को चिंता है कि पाकिस्तान IMF की वित्तीय मदद का उपयोग चीन से लिए कर्ज को चुकाने में कर सकता है।

यह भी पढ़ें - अर्थव्यवस्था में पैसे की कमी दूर करेगा RBI, नकदी बढ़ाने के लिए तैयार किया ये प्लान

पिछले माह ही राहत पैकेज के लिए हुआ था समझौता

पाकिस्तान ने पिछले महीने 6 अरब डॉलर के राहत पैकेज के लिए आईएमएफ के साथ एक समझौता किया है। आईएमएफ से पाकिस्तान को यह राहत पैकेज तीन किश्त में मिलेगी। इस राशि का उपयोग पाकिस्तान अपने वित्तीय संकट को दूर करने और धीमी पड़ती अर्थव्यवस्था को मजबूत करने में करेगा। अमारकी विदेश विभाग की वरिष्ठ अधिकारी (दक्षिण एवं मध्य एशिया मामलों) एलिस जी वेल्स ने कहा, "सशर्त पैकेज को लेकर चर्चा है। हमें लगता है कि पाकिस्तान के लिए सशर्त आईएमएफ पैकेज उपयुक्त होगा।"

यह भी पढ़ें - Naresh Goyal की बढ़ सकती है मुश्किलें, Jet लाॅयल्टी प्रोग्राम पर ED कर सकता है पूछताछ

माइको पॉम्पियो ने भी राहत पैकेज को लेकर रखी अपनी बात

सांसदों के प्रश्न के जवाब में पिछले हफ्ते उन्होंने विदेश मामलों की उपसमिति को बताया , " अमरीका को आईएमएफ पैकेज के बारे में स्पष्ट जानकारी नहीं है, लेकिन आईएमएफ और पाकिस्तान सरकार में एक समझौता बना हुआ है।" उन्होंने कहा कि हमने राहत पैकेज के मुद्दे पर अपनी कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है और विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने भी सार्वजनिक रूप से कहा कि किसी भी राहत पैकेज में संरचनात्मक सुधार होना जरूरी है।

Business जगत से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर और पाएं बाजार, फाइनेंस, इंडस्‍ट्री, अर्थव्‍यवस्‍था, कॉर्पोरेट, म्‍युचुअल फंड के हर अपडेट के लिए Download करें Patrika Hindi News App.

Published From : Patrika.com RSS Feed

comments powered by Disqus

Search Latest News

Top News