Home / Latest Alerts / कांग्रेस में उथल पुथल, कल CWC की बैठक में इस्तीफे की पेशकश सकते हैं राहुल गांधी

कांग्रेस में उथल पुथल, कल CWC की बैठक में इस्तीफे की पेशकश सकते हैं राहुल गांधी

Last Updated On : 24 May 2019

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव में करारी शिकस्त के बाद शनिवार को दिल्ली में कांग्रेस वर्किंग कमिटी (सीडब्ल्यूसी) की बैठक रखी गई है। पार्टी सूत्रों की मानें तो राहुल गांधी सीडब्ल्यूसी की बैठक में इस्तीफा दे सकते हैं। हालांकि अभी तक कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के इस्तीफे संबंधी कोई खबर पुष्ट नहीं हो पाई है। गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव में चली मोदी लहर में कांग्रेस के बड़े से बड़े किले ध्वस्त हो गए हैं। यहां तक कि राहुल गांधी खुद उत्तर प्रदेश की अमेठी सीट से चुनाव हार गए हैं। यहां भाजपा उम्मीदवार स्मृति ईरानी ने राहुल को 54 हजार वोटों से पराजित किया है। ताजा जानकारी के अनुसार कांग्रेस सिर्फ 50 सीटें ही हासिल कर पाई है, जबकि दो पर बढ़त बनाए है। जबकि भाजपा ने 300 का आकंड़ा पार कर लिया है। दिखाया है। पार्टी 300 से ज्यादा सीटें जीतने में सफल रही है।

पंजाब में सिद्धू के सिर फूटा नुकसान का ठीकरा, अमरिंदर सिंह ने कहा— पार्टी दोनों में से एक को चुने

 

आपको बता दें कि कांग्रेस में लोकसभा चुनावों की हार के बाद उथल पुथल मच गई है। पंजाब, मध्य प्रदेश और कर्नाटक से पार्टी के लिए बुरी खबर आ रही है। पार्टी हाईकमान ने कल यानी शनिवार सुबह 11:00 बजे कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक बुलाई है। बैठक में हार के कारणों पर बातचीत होगी।

कांग्रेस नेता राज बब्बर ने राहुल गांधी को भेजा इस्तीफा, यूपी अध्यक्ष पद छोड़ने की घोषणा

कार्यसमिति की कल बैठक में राहुल का इस्तीफे का दांव?

राहुल गांधी ने गुरुवार को ही हार तय होने के बाद सोनिया गांधी के सामने इस्तीफे की पेशकश की थी लेकिन तब तय किया गया था कि इस मुद्दे पर कांग्रेस कार्यसमिति में पर चर्चा होगी। काँग्रेस के गढ़ अमेठी में राहुल की हार से भी पार्टी में असंतोष के सुर उठने की संभावना है। कांग्रेस नेता अनिल शास्त्री ने हाई कमान की चुनावी रणनीति पर सवाल उठाया है। माना जा रहा है कि शनिवार को होने वाली कार्यसमिति की बैठक में राहुल गांधी इस्तीफे की पेशकश कर सकते हैं लेकिन पार्टी कार्यसमिति में इसके मंजूर होने की संभावना कम है। कार्यसमिति सर्वसम्मति से इसे नामंजूर कर सकती है।

पंजाब, एमपी और कर्नाटक का सरदर्द

उधर पंजाब में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कांग्रेस हाईकमान को सीधा अल्टीमेटम दे दिया है कि पंजाब में वह रहेंगे या नवजोत सिंह सिद्धू। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से सिद्धू को पार्टी से बाहर निकालने की मांग की है। उन्होंने आरोप लगाया है कि सिद्धू की वजह से पंजाब में कई सीटों पर पार्टी को नुकसान उठाना पड़ा है।

Loksabha Election Result 2019: पाकिस्तानी मीडिया में नरेंद्र मोदी की जीत की चर्चा, बताई ये वजह

दूसरी तरफ कर्नाटक में जेडीएस और कांग्रेस की गठबंधन सरकार पर भी खतरे के बादल मंडरा रहे हैं। वहां गठबंधन को करारी हार का सामना करना पड़ा है। माना जा रहा है कि जेडीएस और कांग्रेस के बीच गठबंधन टूट सकता है। हालांकि कांग्रेस के संगठन महासचिव के सी वेणुगोपाल ने कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी को फोन कर भरोसा दिया है कि वह मुख्यमंत्री पद के बने पर बने रहे और कांग्रेस का समर्थन उनको जारी रहेगा।

उधर मध्य प्रदेश में भी कांग्रेस पार्टी की सरकार संकट में दिखाई दे रही है। भाजपा ने वहां कुछ दिनों में ही कांग्रेस की सरकार गिराने की बात कही है। भले ही राज्य के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भाजपा के इस दावे को खारिज किया है लेकिन जिस तरह से मध्य प्रदेश में कांग्रेस को सिर्फ एक सीट पर ही जीत नसीब हुई है, उसके बाद प्रदेश की सरकार भी सुरक्षित नहीं दिख रही है।

कांग्रेस में देशभर बड़े बदलाव की संभावना

शनिवार को सुबह 11:00 बजे होने वाली कार्यसमिति की बैठक में राष्ट्रीय और राज्य के कांग्रेस संगठनों में बड़े बदलाव को लेकर भी बातचीत हो सकती है यूपी के कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर ने पहले ही राहुल गांधी को इस्तीफे की पेशकश कर दी है। उन्होंने राज्य में कांग्रेस की हार की जिम्मेदारी ली है।

Published From : Patrika.com RSS Feed

comments powered by Disqus

Search Latest News

Top News