Home / Latest Alerts / इंतजार खत्म! सॉवरेन गोल्ड बॉंड की मार्केट में एंट्री, जानें कब तक है खरीदने का मौका

इंतजार खत्म! सॉवरेन गोल्ड बॉंड की मार्केट में एंट्री, जानें कब तक है खरीदने का मौका

Last Updated On : 21 Apr 2020

नई दिल्ली: कोरोनावायरस से जिस तरह से शेयर मार्केट और क्रूड का मूड बिगाड़ा है उससे एक बात तो समझ में आती है कि किसी भी हालात में गोल्ड खरीदना समझदारी है। लेकिन फिलहाल तो सर्राफा बाजार भी बंद है ऐसे में अगर कई अपनी कमाई को सोने में लगाना चाहे तो उसके पास क्या ऑप्शन होंगे। अगर आप भी यही सारी बातें लगातार सोच रहे हैं तो हम आपको एक बेहतरीन ऑप्शन बता रहे हैं जिससे आपको न सिर्फ सोना खरीदने का फायदा होगा बल्कि आपको कई और बातों में भी आसानी होगी। गोल्ड बॉंड ( sovereign gold bond ) की बेस्ट चीज ये है कि आप यहां 1 ग्राम सोना भी खरीद सकते हैं और ऑनलाइन इनका सब्सक्रिप्शन लेने वालों को 500 रूपए तक की छूट भी मिलेगी।

सरकार का नया फरमान, कोरोना के बाद जरूरी होगा कर्मचारियों को हेल्थ इंश्योरेंस देना

24 तारीख तक है निवेश का मौका-

हम बात कर रहे हैं सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड्स ( sovereign gold bonds ) की । इन बॉंड्स की बिक्री सरकार ने शुरू कर दी है। 20 अप्रैल से सरकार ने इन बॉंड्स की बिक्री शुरू की है और 24 तारीख तक इन्हें खरीदने का मौका है। उसके बाद आप इन बांड्स में पैसा नहीं लगा सकते । 28 अप्रैल को निवेशकों को ये बांड जारी किए जाएंगे।

गोल्ड बॉन्ड की कीमत- सरकार ने गोल्ड बांड के लिए 4639 रुपये प्रति ग्राम यानी 46390 रुपये प्रति 10 ग्राम का भाव तय किया है। ऑनलाइन छूट को मिलाकर 10 ग्राम सोना 45890 रुपये का पड़ेगा जबकि एमसीएक्स पर सोने की कीमत 47000 पार करने के बाद सोना अभी भी 46 हजार पर ट्रेड कर रहा है। रिजर्व बैंक (Reserve bank of india ) ने कहा है कि इश्यू प्राइस सब्सक्रिप्शन से पहले वाले हफ्ते के अंतिम तीन कार्य दिवस के लिए IBJA की तरफ से जारी 999 प्योरिटी वाले सोने के क्लोजिंग प्राइस के सिंपल ऐवरेज से रुपये में तय होगा।

2.5 फीसदी रिटर्न की गारंटी
एक्सपर्ट का मानना है कि गोल्ड बांड ( sovereign gold bond ) में सरकार की ओर से 2.5 फीसदी रिटर्न की गारंटी रहती है। वहीं अगर सोने में तेजी आती है तो उस तेजी का भी फायदा इसमें मिलेगा।

बना रहेगा सोना सेफ हैवन- मार्केट एक्सपर्ट का कहना है, कि सोने के भाव में इस साल अंत तक तेजी जारी रहने का अनुमान है। इक्विटी मार्केट में गिरावट जारी रहने की आशंका है। एकसपर्ट्स का मानना है कि सोने की कीमत 53000 रुपए तक जा सकती है। एक्सपर्ट्स का कहना है कि हर निवेशक को अपने पोर्टफोलियो में 8 से 10 फीसदी सोना शामिल करना चाहिए।

Published From : Patrika.com RSS Feed

comments powered by Disqus

Search Latest News

Top News