Home / Latest Alerts / जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल का विवादित बयान, पुलिसवालों को नहीं नेताओं और भ्रष्ट अफसरों को मारे आतंकी

जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल का विवादित बयान, पुलिसवालों को नहीं नेताओं और भ्रष्ट अफसरों को मारे आतंकी

Last Updated On : 21 Jul 2019

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ( Satya Pal Malik ) ने विवादित बयान दिया है। राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने आंतकियों से अपील की है वह पुलिसवालों, SPO और जवानों को मत मारे अगर मारना है तो भ्रष्ट अफसरों और नेताओं को खत्म करे, क्योंकि ये लोग राज्य को लूटने में लगे हुए हैं।

कश्मीर की संपत्ति लूटने वालों को मारने की जरूरत

करगिल में आयोजित एक कार्यक्रम में राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा कि जो लड़के बंदूक लिए अपने लोगों को मार रहे हैं, पीएसओ, पुलिसवाले को मार रहे हैं, यह क्या है। अगर मारना है तो उन्हें मारो जिन्होंने तुम्हारा मुल्क लूटा है, जिन्होंने कश्मीर की सारी संपत्ति लूटी है। क्या इनमें से भी कोई मारा है अभी? बंदूक से कुछ हासिल नहीं होगा।' मलिक ने लिट्टे नामक संगठन का जिक्र किया।

ये भी पढ़ें: झाड़ू लगाने वाले पीएम की सांसद साध्वी प्रज्ञा बोलीं- 'नाली साफ कराने के लिए MP नहीं बनी हूं'

करगिल में पर्यटन की अपार संभावनाएं

उन्होंने कहा कि श्रीलंका में लिट्टे नामक एक संगठन था जिसको काफी समर्थन था। लेकिन यह भी समाप्त हो गया। करगिल लद्दाख पर्यटन महोत्सव के उद्घाटन पर राज्यपाल ने यह विवादित बयान दिया। उन्होंने कहा कि कारगिल और लेह में पर्यटन की अपार संभावनाएं हैं। इसे और बढ़ाने पर जोर देने की जरूरत है।

ये भी पढ़ें: किसी फिल्म से कम नहीं थी शीला और विनोद दीक्षित की लव स्टोरी

 

विवादित बयानों को लेकर चर्चा में रहते हैं सत्यपाल मलिक

बता दें कि अपने विवादित बयानों को लेकर हमेशा सुर्खियों में रहने वाले राज्यपाल सत्यपाल मलिक इससे पहले भी आतंकियों के प्रति हमदर्दी जता चुके हैं। जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ जारी अभियान के तहत गवर्नर ने कहा था कि पुलिस बेहतर काम कर रही है, लेकिन अगर एक भी जान जाती है, तो उन्हें दुख होता है। चाहे आतंकी ही क्यों ना हो। हम चाहते हैं कि हर कोई वापस आए।

Published From : Patrika.com RSS Feed

comments powered by Disqus

Search Latest News

Top News