Home / Latest Alerts / ज्यादा ठंडे पानी से आंतों में सिकुड़न, मोटापा लिवर के लिए घातक

ज्यादा ठंडे पानी से आंतों में सिकुड़न, मोटापा लिवर के लिए घातक

Last Updated On : 19 Apr 2020

गर्मी में प्यास लगने पर ज्यादा ठंडा पानी पीना अच्छा लगता है लेकिन इससे होने वाले नुकसान को अनदेखा कर देते हैं। इससे शरीर में कमजोरी के साथ-साथ कई बीमारियां आती हैं। आंतें सिकुड़ जाती हैं। खट्टी डकारें, गैस बनना, रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होना, सिर दर्द, हृदय गति कम, टॉन्सिल्स हो सकता है। खाने के दौरान ठंडा पानी पीने से बदहजमी होती है।

मोटापे से लिवर होता डैमेज -
अध्ययन में सामने आया हैं कि 35% मोटे बच्चों में 8 साल की उम्र से ही नॉन-अल्कोहलिक फैटी लिवर डिजीज (एनएएफएलडी) के लक्षण नजर आने लगे। यह अध्ययन करीब 635 बच्चों पर किया गया था, जिसमें पाया गया कि 3 साल की उम्र में जिन बच्चों की कमर की चौड़ाई अधिक होती है, उन्हें अगले 5वर्षों में एनएएफएलडी के लक्षण सामने आने का खतरा दोगुना रहता है। (कोलम्बिया यूनिवर्सिटी की रिसर्च)
एक्सपर्ट : लिवर से शरीर के सभी विषैले तत्त्व निकलते हैं। लिवर में 5-10 प्रतिशत से अधिक फैट जमा होने पर फैटी लिवर होता है। स्वस्थ जीवनशैली, संतुलित आहार लें।

Published From : Patrika.com RSS Feed

comments powered by Disqus

Search Latest News

Top News