Home / Latest Alerts / विराट कोहली ने कहा- विश्व कप में महेंद्र सिंह धोनी और रोहित शर्मा की भूमिका लीडर की होगी

विराट कोहली ने कहा- विश्व कप में महेंद्र सिंह धोनी और रोहित शर्मा की भूमिका लीडर की होगी

Last Updated On : 15 May 2019

नई दिल्ली : आईसीसी विश्व कप शुरू होने में मात्र 15 दिन बचे हैं। ऐसे समय टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने महेंद्र सिंह धोनी और रोहित शर्मा की विश्व कप में क्या भूमिका होगी, इसका खुलासा किया है। उन्होंने कहा कि क्रिकेट के महाकुंभी में ये दोनों नेतृत्वकारी भूमिका में होंगे। क्रिकेट के महाकुंभ विश्व कप में ज्यादा दिन नहीं बचे हैं।

धोनी अमूल्य हैं

विराट कोहली ने कहा कि दो बार के विश्व विजेता टीम के कप्तान रह चुके महेंद्र सिंह धोनी 'अमूल्य' हैं, खासकर विकेट के पीछे। विकेट के पीछे से उनके कुछ शिकार देखें, वह मैच जिताऊ होती है। ज्यादा दूर जाने की जरूरत नही हाल में हुए आईपीएल को ही देख लीजिए। उन्होंने यह भी कहा कि धोनी जिस निस्वार्थ भाव से खेलते हैं, वह उन्हें खास बनाती है। उन्होंने कहा कि इस खेल को खेलने वाले सबसे स्मार्ट लोगों में से एक हैं महेंद्र सिंह धोनी। वह अनुभव के खजाना है। इस कारण उन्हें अपना खेल खेलने की स्वतंत्रता मिलती है।

धोनी के लिए टीम सबसे पहले

कोहली ने कहा कि उनका करियर धोनी के मार्गदर्शन में शुरू हुआ। बहुत कम ही लोगों ने उन्हें इतने करीब से देखा होगा, जितना उन्होंने देखा है। धोनी के बारे में यह बात सबसे ज्यादा मायने रखती है कि चाहे कुछ भी हो, वह वह टीम को पहले रखते हैं। आप उनके अनुभव को देखें जो वो टीम में लेकर आते हैं। हम उस अनुभव से मालामाल होते हैं।

विश्व कप में धोनी के साथ रोहित भी होंगे अहम

विराट कोहली ने कहा कि विश्व कप में धोनी और उपकप्तान रोहित शर्मा नेतृत्वकारी भूमिका में होंगे। टीम प्रबंधन ने एक स्ट्रेटेजी पूल बनाया है। इसमें धोनी और रोहित दोनों शामिल हैं। इन दोनों ने जिस तरह से बतौर कप्तान आईपीएल में अपनी जिम्मेदारी निभाई हैं, वह बताता है कि टीम को ये दोनों क्या दे सकते हैं। धोनी के पास तो खासतौर पर विरासत है। इसलिए इन दोनों का लीडरशीप रोल में होना टीम के लिए अच्छा है।

पिछला साल रहा टीम इंडिया के लिए यादगार

कोहली बीते दो साल से लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं। उन्हें मौजूदा समय का सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज माना जा रहा हैं। अपनी कप्तानी में उन्होंने भारत को आस्ट्रेलिया में ऐतिहासिक टेस्ट सीरीज जिताई। साथ ही टीम इंडिया आस्ट्रेलिया और इंग्लैंड में वनडे सीरीज जीती। हालांकि विश्व कप से पहले आस्ट्रेलिया के साथ अपनी धरती पर खेली गई एकदिवसीय सीरीज में भारत को हार मिली है, इसके बावजूद वह विश्व कप में जीत का प्रबल दावेदार माना जा रहा है।
कोहली ने कहा कि हमारे लिए चुनौतीपूर्ण साल रहा। ऐसा साल, जिस पर गर्व कर सकते हैं। युवा टीम के साथ मुश्किल परिस्थतियों में जाकर खेलना शानदार था। जनवरी-2018 से लेकर अब तक जितनी बड़ी सीरीज खेली, उसमें इसी मानसिकता से खेले। हम इस बात को लेकर साफ थे कि हम क्या चाहते हैं और कहां जाना चाहते हैं। विराट ने यह भी कहा कि उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि वह कभी इस स्थिति में भी होंगे, जहां उनसे लोग प्रेरित होंगे। उन्होंने कहा कि उनकी प्राथमिकता अपनी टीम के लिए लंबा खेलने की है।

Published From : Patrika.com RSS Feed

comments powered by Disqus

Search Latest News

Top News